Tag Archives: mata kavita

गया था मैं मिलने पिता देवता से

गया था मैं मिलने पिता देवता से किसी भगवती से, ममता की छँटा से जब माँ से मिला, मैं माँ में मिला फ़िर दुआओं का चलता रहा सिलसिला फ़िर हुआ पिता का भी वंदन चरण वंदना से है ये पूजा … Continue reading

Posted in जीवन | Tagged , , , , , , | Leave a comment